नई दिल्ली । इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में सनराइजर्स हैदराबाद के मैच के दौरान स्टैंड्स से टीम को चीयर करने वाली काव्या मारन सिर्फ क्रिकेट की शौकीन ही नहीं बल्कि बहुत अच्छी स्कॉलर भी रही हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उन्होंने न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी से संबद्ध लियोनार्ड एन स्टर्न स्कूल ऑफ बिजनेस से एमबीए किया हुआ है। इससे पहले उन्होंने चेन्नई स्थित स्टेला मारिस कॉलेज से बी कॉम ग्रेजुएट की डिग्री हासिल की थी। काव्या मारन सनराइजर्स हैदराबाद की सीईओ हैं। काव्या ने एमबीए की पढ़ाई पूरी करने के बाद पिता कलानिधि मारन के कारोबार में हाथ बंटाने का फैसला किया था। कलानिधि मारन भारत के सबसे बड़े टेलीविजन नेटवर्क में से एक सन टीवी टीवी नेटवर्क (32 टीवी चैनल और 45 एफएम रेडियो स्टेशन) के मालिक हैं। काव्या मां कावेरी मारन भी देश की हाइएस्ट पेड बिजनेसवुमन्स में से एक हैं।  इतने बड़े कारोबारी घराने से आने के बावजूद काव्या ने अपनी कंपनी में कोई बड़ा पद ग्रहण करने से पहले अनुभव हासिल करने के लिए सन टीवी नेटवर्क में इंटर्नशिप भी की थी। काव्या मारन का यह क्रिकेट के प्रति अथाह प्रेम ही है कि वह आईपीएल में सनराइजर्स हैदराबाद के मुकाबलों के दौरान अपनी टीम के खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन करती नजर आती हैं। आईपीएल नीलामी के दौरान जिस तरह से वह बोली लगाती दिखती हैं, उससे साफ है कि सनराइजर्स हैदराबाद के लिए खिलाड़ियों को चुनने में भी उनकी अहम भूमिका रहती है। खबरों की मानें तो वह सनराइजर्स हैदराबाद के थिंक टैंक के साथ मिलकर टीम के लिए रणनीति भी तैयार करती हैं। छह अगस्त 1992 को चेन्नई में जन्मीं काव्या को ट्रैवलिंग और म्यूजिक सुनने का भी शौक है। इसके अलावा उनकी एविएशन (विमानन) और मीडिया सेक्टर में भी रुचि है।