मुंबई । 15वें मैच में चेन्नई सुपर किंग्स ने कोलकाता नाइट राइडर्स को 18 रन से शिकस्त दी। 221 रन के टारगेट का पीछा करने उतरी KKR 19.1 ओवरों में 202 रन ही बना सकी। जीत के बाद चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि अगर कोलकाता 20 ओवर तक बैटिंग करती तो शायद जीत सकती थी। उन्होंने कहा कि 15-16 ओवर से तेज गेंदबाज और बल्लेबाज के बीच टक्कर होती है। इस समय आप ज्यादा कुछ नहीं कर सकते हैं। ऐसी स्थिति में वही टीम जीतती है, जो अपनी योजना को बेहतर तरीके से लागू कर पाती है। आप शुरुआत में ज्यादा विकेट नहीं ले सकते हैं। सभी टीमों में अच्छे हिटर्स हैं। सूखी और टर्निंग पिच पर हमारे पास एकमात्र विकल्प जडेजा थे। अगर उनके पास विकेट होते तो स्थिति अलग हो सकती थी। मैंने टीम के खिलाड़ियों से कहा था कि हमने अच्छा स्कोर किया है, लेकिन हमें विनम्र रहने की जरूरत है। जब इस पिच पर आप रन बना सकते हैं, तो विपक्षी खिलाड़ी भी बना सकते हैं।
धोनी ने बल्लेबाजों की तारीफ की
धोनी ने बल्लेबाजों की तारीफ की। इस मैच में गायकवाड़ ने 42 गेंदों पर 65 रन बनाए, जबकि डुप्लेसिस ने 60 गेंदों पर 95 रन बनाए। धोनी ने गायकवाड़ का जिक्र करते हुए कहा कि ऋतुराज पिछले सीजन में अपनी प्रतिभा दिखा चुके हैं। लेकिन इस सीजन के शुरुआती मैचों में रन नहीं बना पा रहे थे। हालांकि उनके अंदर आत्मविश्वास दिख रहा था। अच्छा है कि इस मैच में उन्होंने बेहतरीन पारी खेली।
मॉर्गन ने कार्तिक, कमिंस और रसेल की तारीफ की
केकेआर के कप्तान इयोन मॉर्गन ने हार के बाद कहा कि जब 5.2 ओवर में 5 विकेट गिर गए थे, तब उन्होंने सोचा भी नहीं था टीम की जीतने की भी उम्मीद है। लेकिन आंद्रे रसेल, दिनेश कार्तिक, पैट कमिंस बल्लेबाजी से मैच में वापसी हुई और हम जीत के करीब पहुंच पाए। पॉवर प्ले के दौरान हमने विकेट खो दिए थे। हम मैच में कहीं भी नहीं दिख रहे थे। लेकिन हमारे मध्यक्रम और निचले क्रम के बल्लेबाजों ने बेहतरीन पारी खेली औप टीम को मैच में वापस लाए। हमारे टॉप ऑर्डर के बल्लेबाज फेल रहे। इस मैच में दिनेश कार्तिक ने 24 गेंदों पर 40 रन, आंद्र रसेल ने 22 गेंदों पर 54 रन और पैट कमिंस ने 34 गेंदों पर 66 रन बनाए।