रायपुर क्रेडिट कार्ड लोन की ठगी के मामले में तेलीबांधा पुलिस ने जांच तेज कर दी है। पुलिस ने आरोपितों द्वारा अब दिलवाए गए क्रेडिट कार्ड की जानकारी एक्सिस बैंक को पत्र लिखकर मांगी है। गिरफ्तार पांचों आरोपितों ने 50 से ज्यादा लोगों को ठगी का शिकार बनाया है।

यह संख्या जांच के बाद और भी बढ़ सकती है।बता दें कि तेलीबांधा थाना पुलिस ने रविवार को क्रेडिट कार्ड के नाम से लोन दिलाने वाले एक गिरोह का राजफाश किया। इसमें पांच आरोपित निखिल कोसले, शिव साहू और शैलेंद्र मिश्रा के साथ बैंक के क्रेडिट कार्ड डिपार्टमेंट में काम करने वाले नबील खान और जगमोहन सिपता को गिरफ्तार किया। पुलिस अब आरोपितों के संपत्ति की जानकारी भी जुटा रही है।

ठगी के पैसे से पूरा कर रहे थे शौक

पकड़े गए आरोपितों ने लगभग चार करोड़ रुपये की ठगी की वारदात की। ठगी के पैसे से आरोपितों ने 25-25 लाख रुपये की कार खरीदी। इसके अलावा महंगी बाइक और मकान में लाखों रुपये खर्च किए।

बैंक से दस्तावेज के आधार पर सीए का पता

आरोपितों ने क्रेडिट कार्ड लोन दिलाने के लिए चार्टर्ड अकाउंटेंट फर्जी दस्तावेज तैयार कर ज्यादा का आइटीआर दिखाते थे, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोन मिल सके। बैंक से मिलने वाले दस्तावेज से पुलिस को दोनों चार्टर्ड अकाउंटेंट की जानकारी मिल सकेगी। पुलिस अब उन्हें भी आरोपित बनाने की तैयारी में है।बैंक को पत्र लिखकर क्रेडिट कार्ड से लोन प्राप्त करने वाले लोगों की जानकारी मांगी गई है। जानकारी मिलने के बाद और भी नाम जुड़ सकते हैं। पीड़ितों की संख्या भी बढ़ेगी