नई दिल्ली  कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हाई लेवल मीटिंग शुरू हो गई है। इसमें वो उन राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात कर रहे हैं, जहां कोरोना के मामले सबसे ज्यादा आ रहे हैं। सबसे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से उन्होंने संवाद शुरू किया है।

केजरीवाल ने कहा, 'हमने केंद्र को मंत्रियों को फोन किए। उन्होंने पहले मदद की पर अब वो भी थक गए। अगर दिल्ली में ऑक्सीजन की फैक्ट्री नहीं है तो क्या दो करोड़ लोगों को ऑक्सीजन नहीं मिलेगी। जिन राज्यों में ऑक्सीजन प्लांट हैं, वो दूसरों की ऑक्सीजन रोक सकते हैं। ऑक्सीजन रुक जाए और लोगों की मौत की नौबत आ जाए तो मैं फोन उठाकर किससे बात करूं, कोई ट्रक रोक ले तो किसे फोन करूं। हम लोगों को मरने के लिए नहीं छोड़ सकते हैं। अगर कोई सार्थक कदम नहीं उठाया तो हालात बिगड़ेंगे।'

मुख्यमंत्री ने कहा, 'दिल्ली के 2 करोड़ लोगों की तरफ से मैं विनती कर रहा हूं कि आप हमारी मदद कर सकते हैं। ऑक्सीजन की कमी से अस्पताल में जो हालात हैं, वो देखे नहीं जाते। पूरी-पूरी रात हम सो नहीं पाते। मुख्यमंत्री होते हुए भी मैं कुछ नहीं कर पा रहा हूं। ईश्वर न करे कि ऑक्सीजन न मिलने से अनहोनी हो गई तो हम कभी अपने को माफ नहीं कर पाएंगे। एक नेशनल प्लान बनना चाहिए। देश के सभी ऑक्सीजन प्लांट को आर्मी टेकओवर करे। ट्रकों के साथ सेना का वाहन रहेगा तो कोई उन्हें रोक नहीं पाएगा।'

पहले इंटरनल बैठक की

सबसे पहले मोदी एक इंटरनल बैठक करेंगे। इसके बाद वे उन राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात कर रहे हैं, जहां कोरोना के मामले सबसे ज्यादा आ रहे हैं। प्रधानमंत्री की तीसरी बैठक ऑक्सीजन का प्रोडक्शन करने वाले कंपनी मालिकों के साथ होगी। उन्होंने अपना बंगाल दौरा भी रद्द कर दिया है। पहले वे मालदा, मुर्शिदाबाद, बीरभूम और दक्षिण कोलकाता में रैलियों को संबोधित करने वाले थे, लेकिन अब वे चारों रैलियां वर्चुअली करेंगे। स्थानीय भाजपा कार्यकर्ताओं ने रैलियों की पूरी तैयारी कर ली थी, लेकिन आखिर वक्त पर रैलियां रद्द कर दी गईं।

प्रधानमंत्री की इंटरनल बैठक सुबह 9 बजे होगी। इसमें कौन शामिल होगा, इसकी जानकारी नहीं है। दूसरी बैठक सुबह 10 बजे राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ होगी। इसमें महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, गुजरात, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, राजस्थान, बिहार और केरल के मुख्यमंत्री शामिल हो सकते हैं। इसके बाद दोपहर 12.30 बजे मोदी ऑक्सीजन प्रोडक्शन कंपनियों के मालिक से बात करेंगे।

इन मीटिंग्स के चलते चलते नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को अपना बंगाल दौरा रद्द कर दिया है। उन्होंने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। उन्होंने यहां 4 जिलों की 56 विधानसभा सीटों के लिए 4 रैलियां करनी थीं। हालांकि, शाम 5 बजे वो वर्चुअली राज्य के वोटरों से अपनी अपील करेंगे।

ऑक्सीजन के मसले पर देश के 6 हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में भी सुनवाई चल रही है। इस बीच गृह मंत्रालय ने राज्यों को निर्देश दिए हैं कि ऑक्सीजन सप्लाई वाली गाड़ियों को न रोका जाए। इससे पहले गुरुवार को देश में ऑक्सीजन की सप्लाई को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाई लेवल रिव्यू मीटिंग की। इसमें उन्होंने अफसरों को निर्देश दिए कि राज्यों को की जा रही ऑक्सीजन सप्लाई में किसी तरह की रुकावट नहीं आनी चाहिए।